Megamenu

श्री राज कुमार सिंह

श्री राज कुमार सिंह

माननीय राज्य मंत्री (आईसी) (बिजली, नई और नवीकरणीय ऊर्जा) और राज्य मंत्री (कौशल विकास और उद्यमिता)

 
व्यक्तिगत विवरण
पिता का नाम श्री हलधर प्रसाद सिंह
माता का नाम श्रीमती चंद्रकला देवी
जन्म की तारीख 20 दिसंबर 1952
जन्म स्थान सुपौल (बिहार)
वैवाहिक स्थिति विवाहित
विवाह की तारीख 27 फरवरी 1975
पत्नी का नाम श्रीमती शीला सिंह
पुत्रों की संख्या 1
पुत्रियों की संख्या 1
शैक्षिक योग्यता बी.ए. (ऑनर्स) अंग्रेजी साहित्य, एल.एल.बी., प्रबंधन में डिप्लोमा
सेंट स्टीफन कॉलेज, दिल्ली, मगध विश्वविद्यालय और आरवीबी डेल्फ़्ट (नीदरलैंड) में शिक्षित
व्यवसाय सिविल सेवक वकील
चुनाव क्षेत्र आरा (बिहार)
पार्टी का नाम भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)
स्थाई पता फ्लैट नंबर- 903, मणि आर्किड एपार्टमेंट,
आर.पी.एस. मोड के पास, बेली रोड,
पटना, बिहार - 801503
टेलीफैक्स: (06182) 2248444
09661399999 (मो.)
वर्तमान पता 3, तालकटोरा रोड,
नई दिल्ली -110 001
टेलीफैक्स (011) 23712381
09661399999 (मो.)
दूरभाष: (011) 23717474 (का.)
धारित पद
मई, 2014 16 वीं लोकसभा के लिए निर्वाचित
1 सितंबर 2014 के बाद सदस्य, विशेषाधिकार समिति
सदस्य, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण संबंधी स्थायी समिति
सदस्य, परामर्शदात्री समिति, रक्षा मंत्रालय
15 सितंबर 2014 - 25 मई 2019 सदस्‍य, लोक सभा सदस्‍यों के साथ सरकारी अधिकारियों द्वारा नयाचार प्रतिमान का उल्‍लंघन और अवमानपूर्ण व्‍यवहार संबंधी समिति
सदस्‍य, नेशनल प्‍लेटफार्म फॉर डिजास्‍टर रिस्‍क रिडक्‍शन (एन.पी.डी.आर.आर.)
1 मई 2015 - 7 जून 2018 सदस्‍य, संसद भवन परिसर में सुरक्षा संबंधी संयुक्‍त समिति
संसद अंतर्राष्‍ट्रीय शांति और सुरक्षा संबंधी अंतर्राष्‍ट्रीय संघ (आई.वी.यू.) स्‍थायी समिति
सदस्‍य, इंडिया चाइना पार्लियामेन्‍टरी फ्रेंडशिप ग्रुप
19 अक्टूबर 2016 - 3 सितंबर 2017 सदस्य, कार्मिक, लोक शिकायत, कानून और न्याय संबंधी स्थायी समिति
3 सितंबर 2017 - 25 मई 2019 केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), ऊर्जा मंत्रालय; तथा नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय
मई, 2019 17 वीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (दूसरा कार्यकाल)
30 मई 2019 के बाद केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) विद्युत मंत्रालय; तथा नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय; और राज्य मंत्री, कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय
सामाजिक और सांस्कृतिक गतिविधियाँ
भारतीय पर्वतारोहण फाउंडेशन के आजीवन सदस्य
विशेष रुचि
आंतरिक सुरक्षा और रक्षा
पसंदीदा शौक और मनोरंजन
पढ़ना
खेल और क्लब
घुडसवारी और निशानेबाजी
विदेश यात्राएं
बेल्जियम, भूटान, ब्राजील, चीन, मिस्र, फ्रांस, ईरान, इटली, म्यांमार, नेपाल, पाकिस्तान, रूस, श्रीलंका, यू.के. और यू.एस.ए.
अन्य जानकारी
  • जिला मजिस्‍ट्रेट, पूर्वी चम्‍पारण 1981-1983; जिला मजिस्‍ट्रेट, पटना 1983-85; निदेशक और संयुक्त सचिव, रक्षा मंत्रालय 1991-1996; गृह सचिव, विहार सरकार 1997-1999; संयुक्त सचिव, गृह मंत्रालय भारत सरकार 2000-2005; प्रधान सचिव, सड़क निर्माण विभाग, बिहार सरकार 2006-2009; उत्‍पादन सचिव 2011 से जून, 2013 तक,
  • वर्ष 1974 में भा.पु.से. के लिए और 1975 में भा.प्र.से. के लिए चयन;
  • 1981 से 1983 तक पूर्वी चम्‍पारण के जिला मजिस्‍ट्रेट;
  • 1983 से 1985 तक पटना के जिला मजिस्‍ट्रेट और तत्‍कालीन प्रधानमंत्री, स्‍व. श्रीमती इंदिरा गांधी की हत्‍या के बाद हुए दंगों को दो दिन में नियंत्रित किया।
  • मुझे उस समय जेल का महा-निरीक्षक नियुक्‍त किया गया जब जेल से बड़ी संख्‍या में कैदी भाग रहे थे;
  • राज्‍य सहकारिता विपणन संघ का प्रशासक, राज्‍य मंत्रिमंडल ने उर्वरकों की उपलब्‍धता और कीमतों पर नियंत्रण रखने हेतु सराहा;
  • 1991 में रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार में आए (रक्षा मंत्रालय में निदेशक और बाद में संयुक्‍त सचिव के रूप में आपरेशन और इंटेलीजेंस (जी.ब्रांच) का कार्यभार संभाला। एन.डी.सी. कोर्स किया;
  • 1997 में बिहार राज्‍य सरकार में गए; पटना खंड में कुछ समय के लिए आयुक्त और उसके बाद राज्‍य के गृह सचिव 1997-1999.
  • 2000 में भारत सरकार में वापस आए। गृह मंत्रालय में 2000 से 2005 तक संयुक्‍त सचिव। पुलिस के आधुनिकीकरण के लिए योजना में सुधार किया और जेल के आधुनिकीकरण के लिए योजना शुरू की। आपदा प्रबंधन के लिए रूपरेखा तैयार की। एन.डी.आर.एफ. आरम्‍भ किया।
  • केन्‍द्र में कार्यकाल पूरा होने पर राज्‍य में वापस गए। प्रधान सचिव, राज्‍य सड़क निर्माण विभाग 2006-2009। देश में सड़क नेटवर्क की खराब स्‍थिति वाले राज्‍य को देश का उत्तम सड़क नेटवर्क वाला राज्‍य बनाया।
  • 2009 में रक्षा उत्‍पादन विभाग में सचिव पद पर भारत सरकार में वापस आए। सचिव, रक्षा उत्‍पादन (2009-2011) के रूप में यह सुनिश्‍चित किया कि आयुध कारखानों, रक्षा शिपयार्ड, हिन्‍दुस्‍तान एयरोनॉटिक्‍स लिमिटेड और अन्‍य रक्षा निर्माण संगठनों में उत्‍पादन रिकार्ड स्‍तर पर हो।